Join Online Test Series in Our Hi-tech computer lab, only Rs 300 . For More info contact us : 9828710134, 9982234596

Hindi Quiz for RRB Mains

निर्देश (1-5) : नीचे दिए गए गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़िए और उस पर आधारित प्रश्नों के उत्तर दीजिए. दिए गए विकल्पों में से सबसे उपयुक्त का चयन कीजिए। 
भाषा का प्रयोग दो रूपों में किया जा सकता है-एक तो सामान्य जिससे लोक में व्यवहार होता है तथा दूसरा रचना के लिए जिसमें प्राय: आलंकारिक भाषा का प्रयोग किया जाता है. राष्ट्रीय भावना के अभ्युदय एवं विकास के लिए सामान्य भाषा एक प्रमुख तत्व है. मानव समुदाय अपनी संवेदनाओं, भावनाओं एवं विचारों की अभिव्यक्ति हेतु भाषा का साधन अपरिहार्यत: अपनाता है. इसके अतिरिक्त उसके पास कोई अन्य विकल्प नहीं है. दिव्य-ईश्वरीय आनंदानुभूति के संबंध में भले ही कबीर ने 'गूगे कोरी शर्करा' उक्ति का प्रयोग किया था, पर इससे उनका लक्ष्य शब्द-रूपा भाषा के महत्व को नकारना नहीं था. प्रत्युत उन्होंने भाषा को ‘बहता नीर’ कह कर भाषा की गरिमा प्रतिपादित की थी. विद्वानों की मान्यता है कि भाषा तत्व राष्ट्रहित के लिए अत्यावश्यक है. जिस प्रकार किसी एक राष्ट्र के भू-भाग की भौगोलिक विविधताएँ तथा उसके पर्वत, सागर, सरिताओं आदि की बाधाएँ उस राष्ट्र के निवासियों के परस्पर मिलने-जुलने में अवरोध सिद्ध हो सकती है. उसी प्रकार भाषागत विभिन्नता से भी उनके पारस्परिक सम्बन्धों में निर्बधता नहीं रह पाती. आधुनिक विज्ञानयुग में यातायात एवं संचार के साधनों की प्रगति से भौगोलिक-बाधाएँ अब पहले की तरह बाधित नहीं करतीं. इसी प्रकार यदि राष्ट्र की एक सम्पर्क भाषा का विकास हो जाए तो पारस्परिक सम्बन्धों के गतिरोध बहुत सीमा तक समाप्त हो सकते हैं. 

मानव-समुदाय को एक जीवित-जाग्रत एवं जीवन्त शरीर की संज्ञा दी जा सकती है. उसका अपना एक निश्चित व्यक्तित्व होता है. भाषा अभिव्यक्ति के माध्यम से इस व्यक्तित्व को साकार करती है, उसके अमूर्त मानसिक वैचारिक स्वरूप को मूर्त एवं बिम्बात्मक रूप प्रदान करती है. मनुष्यों के विविध समुदाय हैं, उनकी विविध भावनाएँ हैं, विचारधाराएँ हैं, संकल्प एवं आदर्श हैं, उन्हें भाषा ही अभिव्यक्त करने में सक्षम होती है. साहित्य, शस्त्र, गीत-संगीत आदि में मानव-समुदाय अपने आदर्शो, संकल्पनाओं, अवधारणाओं एवं विषिष्टताओं को वाणी देता है, पर क्या भाषा के अभाव में काव्य, साहित्य, संगीत आदि का अस्तित्व सम्भव है? वस्तुतः ज्ञानराशि एवं भावराशि का अपार संचित कोष जिसे साहित्य का अभिधान दिया जाता है, शब्द रूप ही तो है. अत: इस सम्बन्ध में वैमत्य की किचित् गुंजाइश नहीं है कि भाषा ही एक ऐसा साधन है जिससे मनुष्य एक-दूसरे के निकट आ सकते हैं, उनमें परस्पर घनिष्ठता स्थापित हो सकती है. यही कारण है कि एक भाषा बोलने एवं समझने वाले लोग परस्पर एकानुभूती रखते हैं, उनके विचारों में ऐक्य रहता है. अत: राष्ट्रीय भावना के विकास के लिए भाषा तत्व परम आवश्यक है. 

Q1. उपर्युक्त अनुच्छेद का सर्वाधिक उपयुक्त शीर्षक है
(a) राष्ट्रीयता और भाषा-तत्व 
(b) बहता नीर भाषा का 
(c) व्यक्तित्व-विकास और भाषा 
(d) साहित्य और भाषा तत्व 
(e) इनमें से कोई नहीं 

Q2. मानव के पास अपने भावों, विचारों, आदशों आदि को सुरक्षित रखने के सशक्त माध्यम है—
(a) भाषा और शैली 
(b) साहित्य और कला 
(c) साहित्य शास्त्र एवं संगीत
(d) व्यक्तित्व एवं चरित्र 
(e) इनमें से कोई नहीं

Q3. ‘भाषा बहता नीर’ से आशय है–
(a) लालित्यपूर्ण भाषा 
(b) साधुक्कडी भाषा 
(c) सरल-प्रवाहमयी भाषा 
(d) तत्समनिष्ठ भाषा 
(e) इनमें से कोई नहीं

Q4 राष्ट्रीय भावना के विकास के लिए भाषा-तत्व आवश्यक है, क्योंकि—
(a) वह ज्ञान राशि का अपार भंडार है
(b) वह शब्दरूपा है और उसमें साहित्य सजना संभव है 
(c) वह मानव-समुदाय की विचाराभिव्यक्ति का साधन है 
(d) वह मानव-समुदाय में एकानुभूति और विचार-ऐक्य का साधन है 
(e) इनमें से कोई नहीं 

Q5. 'गूंगे केरी शर्करा" से कबीर का अभिप्रेत है कि ब्रह्मानंद की अनुभूति—
(a) अनिर्वचनीय होती है 
(b) अत्यन्त मधुर होती है 
(c) मौनव्रत से प्राप्त होती है 
(d) अभिव्यक्ति के लिए कसमसाती है
(e) इनमें से कोई नहीं 

निर्देश (6-10) :नीचे दिया गया प्रत्येक वाक्य चार भागों में बाँटा गया है (a), (b), (c) और (d) क्रमांक दिए गए हैं। आपको यह देखना है कि वाक्यके किसी भाग में व्याकरण, भाषा, वर्तनी, शब्दों के गलत प्रयोग या इसी तरह की कोई त्रुटि तो नहीं है। त्रुटि अगर होगी तो वाक्य के किसी एक भाग में ही होगी। उस भाग का क्रमांक ही उत्तर है। अगर वाक्य त्रुटिरहित है तो उत्तर (e) दीजिए।

Q6. रामदीन का घोड़ा (a)/जोर-जोर से (b)/ चिल्ला (c) रहा था। (d)/ कोई त्रुटि नहीं (e) 

Q7. इस यंत्र का (a)/ उत्पति (b)/ सर रॉबर्ट मैकनमारा (c) ने किया (d)/ कोई त्रुटि नहीं (e) 

Q8. मुझे (a)/ इस बैठक की (b)/ समाचार (c)/ नहीं थी (d)/ कोई त्रुटि नहीं (e) 

Q9. हमारे देश का (a)/ विकास (b)/ कश्मीर से कन्याकुमारी (c) तक है (d)/ कोई त्रुटि नहीं (e) 

Q10. तुम घर पर (a) जाओ (b)/ तो तुम्हारी (c)/ पुस्तक ले आना (d)/ कोई त्रुटि नहीं (e) 

निर्देश (11-15) : नीचे कुछ वाक्यांश या शब्द दिए गए हैं और उसके बाद चार शब्द दिए गए हैं जो एक ही शब्द में इस वाक्यांश या शब्द-समूह का अर्थ प्रकट करता है. आपको यह पता लगाना है कि वह शब्द कौन-सा है जो वाक्यांश या शब्द समूह का सही अर्थ प्रकट करता है. उस विकल्प का क्रमांक ही आपका उत्तर है. यदि कोई शब्द अर्थ नहीं प्रकट करता है तो उत्तर (5) अर्थात् 'इनमें से कोई नहीं" दीजिए. 

Q11. ऐसी अविवाहिता नारी जो किसी पुरुष मे अनुरक्त हो— 
(a) अनूढ़ा 
(b) ऊढ़ा 
(c) प्रगल्भा
(d) खण्डिता 
(e) इनमें से कोई नहीं

Q12. ऐसी उक्ति जो परम्परागत हो— 
(a) जनश्रुति 
(b) अनुश्रुति 
(c) प्रवाद 
(d) लोक कथा 
(e) इनमें से कोई नहीं

Q13.जिसका उत्तर न दिया गया हो–
(a) उत्तरहित 
(b) लाजवाब 
(c) उत्तरहीन 
(d) अनुतरित 
(e) इनमें से कोई नहीं

Q14. बिना देख-रेख का जानवर–
(a) अनेर 
(b) गाभिन 
(c) हिंसक 
(d) बनैला 
(e) इनमें से कोई नहीं

Q15. वह सिद्धात जो हर वस्तु को नाशवान मानता  हो–
(a) क्षणवादी 
(b) अनित्यवादी 
(c) शाश्वतवादी 
(d) विनाशवादी 
(e) इनमें से कोई नहीं 

Solutions 

S1. Ans.(a)
Sol.राष्ट्रीयता और भाषा-तत्व
S2. Ans.(b)
Sol.साहित्य और कला
S3. Ans.(c)
Sol.सरल-प्रवाहमयी भाषा
S4. Ans.(d)
Sol.वह मानव-समुदाय में एकानुभूति और विचार-ऐक्य का साधन है
S5. Ans.(a)
Sol.अनिर्वचनीय होती है
S6. Ans.(c)
Sol. ‘चिल्ला’ शब्द के स्थान पर ‘हिनहिनाना’ शब्द होना चाहिए।
S7. Ans.(b)
Sol. ‘उत्पत्ति’ शब्द के स्थान पर ‘आविष्कार’ शब्द होना चाहिए।
S8. Ans.(c)
Sol. ‘सामाचार’ शब्द के स्थान पर ‘सूचना’ शब्द होना चाहिए।
S9. Ans.(b)
Sol. ‘विकास’ शब्द के स्थान पर ‘विस्तार’ शब्द होना चाहिए।
S10. Ans.(c)
Sol. ‘तुम्हारी’ शब्द के स्थान पर ‘अपनी’ शब्द हागा।
S11. Ans.(a)
Sol. अनूढ़ा
S12. Ans.(b)
Sol. अनुश्रुति
S13. Ans.(d)
Sol. अनुत्तरित
S14. Ans.(a)
Sol. अनेर
S15. Ans.(b)
Sol. अनित्यवादी
New Foundation Batch for SBI-PO, LIC and GIC-AO Starts From 10 December 2018, Monday at 10:00 AM. For more Details Contact us : 9828710134, 9982234596